गुरुवार, 10 दिसंबर 2009

Ek Sher..

मुझे अब तक नहीं मालुम मेरी मंजिल कहाँ पर है,
मैं तो अब तलक गर्दिश का एक टूटा सितारा हूँ !!

~~rishu~~

3 टिप्‍पणियां: